मंगल फॉन्ट सॉफ्वेयर के लिये टाईपिंग टिप्स

मंगल फॉन्ट सॉफ्वेयर के लिये महत्वपूर्ण दिशा निर्देश और टिप्स

Download Shortcut Key- Click Here

मंगल फाँन्ट पर आप आराम से टाईपिंग कर सकते है। यह भारत सरकार द्वारा Approved है।  मंगल फाँन्ट में हम दो या अधिक वर्ण मिलाकर एक नये वर्ण का निर्माण कर सकते हैं। मिश्रित नये वर्ण बनाने के लिए प्रथम वर्ण को बनाइए,​ फिर “d” Key को प्रेस कीजिये और फिर अन्य संबंधित वर्ण बनाइए। —

जैसे हम आपको बता रहे है कि किस प्रकार से दो वर्ण को जोड़कर एक  नया वर्ण बनाते है-
क+d+ष ——— क्ष
ह+d+म ——— ह्म
ह+d+न ——— ह्न
ह+d+व ——— ह्व
ह+d+य ——— ह्य
द+d+ध ——— द्ध
द+d+य ——— द्य
द+d+द ——— द्द
द+d+व ——— द्व
म+d+न ——— म्न
र+d+ज ——— र्ज
फ+d+त ——— फ्त
श+d+र ——— श्र
ट+d+र ——— ट्र




नोट :— इसी प्उरकार सभी वर्पण बना सकते है।  सभी वर्ण पहले अक्षर में हलंत लगाकर (“d” key press करके) दूसरे वर्ण के संयोग से बनाए जाते हैं। इन्हें आप मोबाइल में बनाएं या पीसी में इनकी बनाने की विधि यही रहती है, बशर्ते कि आप यूनीकोड में टाइप कर रहे हों।

Special Characters ( / ? ( ) = + !) के लिए शॉर्टकट Key-

आप यहा स्पेशल करेक्टर के लिये शार्टकट key का प्रयोग करना सिखेंगे। यूनीकोड में टाइपिंग के लिए कुछ अन्य संकेत की भी आपको आवश्यकता पड़ेगी जो आप किसी वर्ण के मिलने से नहीं बना सकते, जैसे— प्रश्नवाचन चिह्न, विस्यादिबोधक चिह्न कोष्ठक , संम्वन्ध वाचक चिह्न  आदि। इसके लिए कुछ शॉर्टकट निर्धारित हैं जो आपको काम आसान करेंगे। यह समस्त शॉर्टकट अल्ट के साथ कार्य करते हैं और रेमिंग्टन, इंस्क्रिप्ट या सभी यूनीकोड लेआउट पर कार्य करते हैं।  यूनीकोड लिए कुछ Shortcut Keys  को ध्यान से देंखे और याद करले—
Alt + 33 से !
Alt + 34 से ”
Alt + 36 से $
Alt + 37 से %
Alt + 39 से ‘
Alt + 40 से (
Alt + 41 से )
Alt + 43 से +
Alt + 47 से /
Alt + 58 से :
Alt + 61 से =
Alt + 63 से ?
Alt + 179 से घन की घात
Alt + 185 से एक की घात
Alt + 2305 से चांद बिन्दु
Alt + 2315 से ऋ

Alt + 178 से वर्ग की घात

नोट — वर्ग की घात लगाने के लिए शब्द के बाद बिना स्पेश दिए शॉर्टकट कीज का प्रयोग करें।
उपरोक्त अल्ट वाली शॉर्टकट कीज, आपके पीसी पर आसानी से कार्य करेंगी । हो सकता है कि आपके आॅपरेटिंग सिस्टम की विषमता के कारण या किसी विशेष सॉफ्टवेयर पर टाइपिंग करने से, कुछ शॉर्टकट कीज काम न करें।

हिन्दी यूनीकोड टाइपिंग के लिए बहुत महत्वपूर्ण सुझाव –

कृपया सुझाव को ध्यानपूर्वक पढें —
1. र में हलंत लगाने पर ( अर्थात् “d” key press करने पर) आधा हो जाता है और जैसे ही हम दूसरा वर्ण बनाते हैं वह उसमें लग जाता है पर र को हमेशा पहले ही पढ़ा जाता है जैसे : श+र+हलंत+म — शर्म।
2. हृ बनाने के लिए ह के बाद कृपा वाला र दबाएं इससे आसानी से हृ बन जाता है!
3. ट्र लिखने के लिए कोई problem नहीं है। ट्र बनाने के लिए क्रम वाला र दबाएं इससे सीधे ही ट्र बन जाता है! मतलब सबसे पहले ट दबाये इसके बाद  “d” key press करे फिर र दबाये।
5. रफ्तार, गिरफ्तार आदि का फ बनाने के लिए फ के बाद हलंत लगाएं एवं त बनाएं। कई बार ऐसा होता है कि र के बाद फ बनाने पर रू बन जाता है पर बैक स्पेश की मदद से आप पुन: फ टाइप कर सकते हैं।
6. वर्ग की घात लगाने के लिए शब्द के बाद बिना स्पेश दिए शॉर्टकट key प्रयोग करें।
7. यदि आप अंग्रेजी से हिन्दी key करना चाहते है तथा आप किसी विशेष सॉफ्टवेयर में काम नहीं कर रहे हैं तो आप अंग्रेजी वर्ण बनाने के लिए ALT एवं  SHIFT बटन दबाकर कीबोर्ड हिन्दी से अंग्रेज से हिन्दी कर सकते हैं। इस प्रकार आप टाइपिंग में बिना परेशान हुए हिन्दी एवं अंग्रेजी वर्ण आसानी से बना सकते हैं। हो सकता है कि आॅपरेटिंग सिस्टम की changes के कारण आपके पीसी पर कुछ शॉर्टकट key काम न करें। लेकिन बहुत से कीज काम करते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *